सूचना प्रौद्योगिकी

लक्षद्वीप सूचना प्रौद्योगिकी सेवा सोसाइटी का गठन भारत सरकार द्वारा घोषित आईटी नीति और लक्षद्वीप के संघ शासित प्रदेश के प्रशासन के कार्यान्वयन में आईटी विभाग की सहायता के लिए किया गया है, प्रभावी और नागरिक अनुकूल सरकारी इंटरफेस, पदोन्नति प्रदान करके ई-गवर्नेंस में प्रयास शुरू किया गया है। उद्योग के लिए आईटी गंतव्य के रूप में केंद्र शासित प्रदेश और जीवन के सभी क्षेत्रों में लोगों के जीवन स्तर को अपग्रेड करने के लिए एक उपकरण के रूप में आईसीटी के उपयोग के रूप में प्रस्तावित सोसाइटी द्वारा किया जाएगा। सोसाइटी 1860 के सोसाइटी पंजीकरण अधिनियम के तहत पंजीकृत है।

निदेशक सूचना प्रौद्योगिकी

सोसाइटी के उद्देश्य हैं:

  • लक्षद्वीप के संघ शासित प्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी का प्रचार और विकास। </ li>
  • सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में यूटी प्रशासन पहलों का समन्वय। </ li>
  • सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र से संबंधित सरकारी नीतियों का कार्यान्वयन। </ li>
  • लक्षद्वीप और उप-समन्वय संगठनों के संघ शासित प्रदेश के प्रशासन में सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित निवेश के लिए खरीद नीतियों का निर्माण और कार्यान्वयन। </ li>
  • सूचना प्रौद्योगिकी के लिए स्कूल सहित शिक्षा / प्रशिक्षण में उत्कृष्टता के केंद्रों की स्थापना। </ li>
  • केंद्रीय क्षेत्र सूचना बुनियादी ढांचे सहित सूचना प्रौद्योगिकी आधारभूत संरचना का विकास। </ li>
  • सूचना प्रौद्योगिकी में पायलट परियोजनाओं का कार्यान्वयन, जो जनता के लिए प्रासंगिक हैं। </ li>
  • सूचना प्रौद्योगिकी प्रशिक्षण संस्थानों का मानकीकरण और प्रमाणीकरण। </ li>
  • एजेंसियों / संगठनों को स्थापित / बढ़ावा देना और सूचना प्रौद्योगिकी आधारित योजनाओं और यूटी प्रशासन और उप-समन्वय संगठनों द्वारा की गई परियोजनाओं की स्वीकृति। / li>
  • राष्ट्रीय कार्य बल और भारत सरकार और अन्य राज्य सरकारों द्वारा स्थापित अन्य उच्चस्तरीय समितियों के साथ बातचीत। </ li>
  • विशिष्ट परियोजनाओं का निर्माण, जो कि केंद्र सरकार के लक्षद्वीप के लिए फायदेमंद हैं, भारत सरकार, बहु पार्श्व निधि एजेंसियों और इसी तरह के सामने पेश किए जाने के लिए। </ li>
  • प्रशासनिक सुधारों, प्रतिक्रिया और पारदर्शिता के लिए एक उपकरण के रूप में नागरिक सेवाओं में सुधार और आईटी के उपयोग के लिए आईटी का उपयोग करने के लिए रणनीतियों का विकास करना। </ li>
  • विभिन्न विभागों में आईटी कार्यान्वयन के प्रयासों को समन्वयित करने और प्रभावी ढंग से इस प्रक्रिया को प्रबंधित करने के लिए ताकि केंद्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप में एक मजबूत आईटी उद्योग आधार स्थापित किया जा सके। </ li>
  • आईटी उद्योगों के लिए आवश्यक मानव संसाधन विकास के लिए रणनीतियों को समझना और कार्यान्वित करना। </ li>
  • उपयुक्त स्तर पर पाठ्यचर्या परिवर्तन की समीक्षा और सुझाव देने के लिए एक प्रणाली आरंभ करें। </ li>
  • केंद्र शासित प्रदेश में आईटी उद्योगों को आकर्षित करने के उद्देश्य से समेकित प्रचार अभियान की योजना बनाने और कार्यान्वित करने के लिए। </ li>
  • लोगों के बीच आईटी के प्रभावी प्रसार के लिए विशिष्ट योजनाएं और भाषण अभियान तैयार करना। </ li>
  • केंद्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप में आधारभूत संरचना सुविधा के माध्यम से आईटी उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नवीन रणनीतियों को विकसित करना। </ li>
  • आईटी पदोन्नति के लिए अनुकूल तरीके से अपनी गतिविधियों को पूरा करने में लक्षद्वीप के संघ शासित प्रदेश के प्रशासन को सलाहकार समर्थन प्रदान करना। </ li>
  • संघीय क्षेत्रीय लक्ष्मीप के प्रशासन के तकनीकी विंग के रूप में कार्य करने के लिए, तकनीकी क्षेत्रीय प्रशासन की परियोजनाओं को तकनीकी योग्यता से जोड़कर </ li>
  • जरूरतों और उपयोगकर्ता एजेंसियों के लिए उपयुक्त सॉफ़्टवेयर के विकास के लिए और आम तौर पर खरीद / बिक्री / सॉफ्टवेयर के आदान-प्रदान में सौदा करना। </ li>
  • अनुसंधान करने के लिए & amp; पुनर्गठन उपकरणों और रिमोट सेंसिंग डेटा और संचार के उपयोग सहित प्रशासन के लिए तकनीकी सहायता के अधिग्रहण, रखरखाव और उपयोग तक पहुंचने के लिए सॉफ़्टवेयर में विकास। </ Li>
  • डेटा प्रसंस्करण केंद्रों की स्थापना या स्थापना, प्रबंधन और प्रबंधन, यूटी प्रशासन और प्रशासन एजेंसियों को हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर उपयोगकर्ता पैकेज और आईटी शिक्षण सेवाओं को सक्षम करने में सहायता करने के लिए सहायता करना। </ li>
  • सरकार, सरकारी एजेंसियों, आर एंड amp के साथ एमओयू / समझौतों या किसी अन्य परस्पर लाभकारी व्यवस्था में प्रवेश करने के लिए डी संस्थानों और निजी कॉर्पोरेट निकायों को समाज की वस्तुओं के अनुकूल किसी भी गतिविधि के लिए आईटी और आईटी उद्योगों के प्रचार के लिए। </ Li>
  • आईसी उद्योगों के सामने आने वाले मुद्दों के समाधान के लिए सूचना और समर्थन के साथ लक्षद्वीप के केंद्रशासित प्रदेश में उद्योगों की सहायता करना </ li>
  • विभिन्न क्षेत्रीय और विभागीय डेटा अड्डों को एकीकृत करके नागरिक सूचना की पीढ़ी, संग्रह और प्रसार के लिए केंद्रशासित प्रदेश क्षेत्र लक्षद्वीप में नोडल एजेंसी के रूप में कार्य करने के लिए। </ li>
  • घटक वेयरहाउसिंग, मानव संसाधन उन्नयन समर्थन, प्रौद्योगिकी उन्नयन समर्थन इत्यादि जैसे सामान्य सुविधा केंद्रों की स्थापना में सहायता और / या सहायता करना। आईटी के क्षेत्र में </ li>
  • अन्य बुनियादी ढांचे की सुविधा और अन्य सहायक एजेंसियों के साथ रणनीतिक संपर्क करके आईटी क्षेत्र में लक्षद्वीप के संघ शासित प्रदेश को नए उद्यमों के चैनलिंग की सुविधा प्रदान करने के लिए। </ li>
  • आईटी उद्योगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नए उद्यमों और अन्य गतिविधियों की स्थापना के लिए बाजार अध्ययन और स्रोत परामर्श सेवाएं प्राप्त करने के लिए। </ li>
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठनों, विश्वविद्यालयों, अनुसंधान केंद्रों, नियामक निकायों, वित्त पोषण एजेंसियों और प्रौद्योगिकी के विकास के लिए ऐसे अन्य संस्थानों के साथ संपर्क करने के लिए प्रस्तावित </ li>

ज्यादा जानकारी के लिये : एल आई टी एस एस वेबसाइट